मुख्यमंत्री की नाराजगी के चलते मनपा के तीन इंजिनियरों पर गिरी गाज

Spread the love

मुख्यमंत्री की नाराजगी के चलते मनपा के तीन इंजिनियरों पर गिरी गाज

नालों की सफाई में लापरवाही बरतने के आरोप में मनपा एच वेस्ट वार्ड के दो कार्यकारी अभियंताओं समेत एक सहायक अभियंता को कारण बताओ नोटिस

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

मुंबई : नाला सफाई निरीक्षण दौरे के दौरान मिलन सबवे के पास नाला अस्वच्छ पाए जाने पर मुख्यमंत्री ने नाराजगी जताते हुए संबंधित अधिकारी के खिलाफ तत्काल कार्रवाई के आदेश दिए थे। इन आदेशों का पालन करते हुए मुंबई महानगर पालिका ने पर्जन्य जलवाहिनी विभाग के दो कार्यकारी इंजीनियरों और एक सहायक इंजीनियर को कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

मुंबई महानगर पालिका ने भारी बारिश के चलते मुंबई में निचले इलाकों में पानी न भरे इस लिए नालों की सफाई का काम शुरू किया है। 18 व 19 मई को मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे द्वारा निरीक्षण दौरा कर नाली सफसफाई कार्यों की समीक्षा की गयी। दौरे के दौरान मुख्यमंत्री ने सांताक्रूज़ के मिलन मेट्रो के पास एक बड़े नाले का निरीक्षण किया। एकनाथ शिंदे ने नाले की सफाई के कार्य पर गहरी नाराजगी व्यक्त की क्योंकि इस नाले में कीचड़ और तैरता हुआ कचरा पाया गया है। साथ ही मुख्यमंत्री ने नालों की ठीक से सफाई नहीं करने पर संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आदेश दिया था।

मुख्यमंत्री के आदेश को ध्यान में रखते हुए, मुंबई महानगर पालिका ने एच-वेस्ट डिवीजन कार्यालय के सहायक आयुक्त द्वारा वर्षा जल निकासी विभाग में दो माध्यमिक इंजीनियरों और एक सहायक अभियंता को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। इसमें उप अभियंता परेश खट्टर व रमेश गिरगांवकर, सहायक अभियंता तुषार पाटिल शामिल हैं।

नाले की सफाई के संबंध में स्पष्ट निर्देश देने के बावजूद ठेकेदार द्वारा नाले की सफाई का कार्य ठीक से नहीं किया जा रहा है। नालों की सफाई के कार्य में लापरवाही, ढिलाई तथा दिए गए निर्देशों का सही ढंग से क्रियान्वयन नहीं करना। इस संबंध में दो दिन के भीतर स्पष्टीकरण देने का आदेश इस नोटिस में दिया गया है। नोटिस में यह भी स्पष्ट किया गया है कि यदि हमारे अधिकार क्षेत्र में आने वाले नालों की सफाई का कार्य निर्धारित समय में पूरा नहीं किया जाता है तो शिकायतों की स्थिति में संबंधित की समस्त जिम्मेवारी निर्धारित की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Right Menu Icon