भारत की 65 पेट्रोलिंग चौकियों पर चीन का कब्जा, फिर भी प्रधानमन्त्री खामोश – संजय राऊत

Spread the love

भारत की 65 पेट्रोलिंग चौकियों पर चीन का कब्जा, फिर भी प्रधानमन्त्री खामोश – संजय राऊत

अमेरिका दौरे पर गये नरेन्द्र मोदी को संजय राऊत की खरी – खरी। कहा पाकिस्तान पर बोलने वाले चीन पर चुप्पी क्यों साधे बैठे हैं

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

मुंबई – शिवसेना ठाकरे समूह के सांसद संजय राउत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कड़ी आलोचना की है, जो फिलहाल अमेरिका दौरे पर हैं। साथ उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि भारत की 65 गश्त चौकियों पर चीन के नियंत्रण पर बात क्यों नहीं कर रहे हैं प्रधानमंत्री ? इस दौरान राउत ने मणिपुर में हुई हिंसा की ओर भी इशारा किया। वे बुधवार को मुंबई में पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे।

संजय राउत ने कहा कि पाकिस्तान के प्रति हमारा जो आक्रामक रुख है, वह चीन के प्रति क्यों नहीं है? भारत की 65 पेट्रोलिंग पोस्ट लगभग चीन के कब्जे में हैं। इस बीच हम यहां केवल एक बयान दे रहे हैं। अगर हम अखंड हिंदुस्तान की भाषा बोल रहे हैं, तो क्या उस अखंड हिंदुस्तान में चीन द्वारा हथिआया गया क्षेत्र नहीं है?

याद रखें कि न केवल पाकिस्तान द्वारा कब्जाया गया कश्मीर, बल्कि चीन द्वारा कब्ज़ाया गया हिस्सा अखंड भारत में आता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका गए हुए हैं। उन्हें चीन के इस मुद्दे को विश्व पटल पर भी उठाना चाहिए। हालांकि इससे पहले उन्हें इस मुद्दे को भारत में भी उठाना चाहिए। क्या मोदी ने कभी भारत की धरती से चीन को चेताया है? संजय राउत ने कहा।

प्रधानमंत्री कहते हैं कि भारत तैयार है। लेकिन फिर मणिपुर में जहां हिंसा हो रही है वहां यह तत्परता क्यों नहीं दिख रही है। मणिपुर भी चीन की सीमा से लगा एक क्षेत्र है। यह एक सीमावर्ती क्षेत्र है। बावजूद इसके मणिपुर में यह तैयारी क्यों नहीं है। मणिपुर में आग क्यों लगी है? मणिपुर में सीमा पार से आतंकियों को हथियार कौन दे रहा है? राऊत ने कहा अगर मोदी इस पर बयान देते तो देश को मार्गदर्शन मिलता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Right Menu Icon