फरिश्ता बना ऑटो ड्राइवर मोहम्मद इस्माइल शेख, वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक यूसुफ़ सौदागर ने फूल देकर किया सम्मान

फरिश्ता बना ऑटो ड्राइवर मोहम्मद इस्माइल शेख, वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक यूसुफ़ सौदागर ने फूल देकर किया सम्मान

सगीर अंसारी

मुंबई : अन्नाभाऊ साठे पुल पर आग की लपटो घिरी एक महिला की मदद के लिए आगे आए ऑटो रिक्शा चालक मोहम्मद इस्माइल शेख ने पानी की बोतल से पानी डाल कर आग भुजाकर महिला की जान बचाई नेहरूनगर थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक यूसुफ सौदागर ने इस्माइल के साहस और इंसानियत की तारीफ करते हुए इस्माइल शेख का अभिनंदन किया गया

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार महिला चूनाभट्टी के सुमन नगर में रहती है और 14/06/23 को वडाला रोड पर सुबह करीब 08:00 बजे जब वह काम पर जाने के लिए अन्नाभाऊ साठे ब्रिज के पास बस स्टॉप पर आई तो उसका पति अचानक आया और उसके शरीर पर पेट्रोल डाल दिया. और लाइटर से आग लगा दी। आग की लपटों में घिरी हुई महिला मदद की गुहार लगा रही थी उस समय सड़क पर कई वाहन गुजर रहे थे लेकिन किसी ने रुककर महिला की मदद की कोई भावना नहीं दिखाई. इसी दौरान एक ऑटो चालक ने महिला को जलता देख अपनी गाड़ी रोकी और महिला के शरीर पर पानी की बोतल से पानी डालकर आग बुझाई और उसे सायन अस्पताल में भर्ती कराया. महिला का इलाज सायन अस्पताल में चल रहा है। ऑटो चालक की मदद से वह महज दस प्रतिशत ही जली है। ऑटो चालक मो. इस्माइल शेख की इस मदद पता चलता है आज भी जात धर्म से परे इंसानियत अभी भी जिन्दा है विज्ञान और तकनीक के मौजूदा दौर में जब इंसान मशीन की रफ्तार से दौड़ता नजर आता है अगर लोग इसी तरहा लोगो की मदद के लिया आगे आए लेकिन मौजूदा समय में मदद के लिए बुलाने पर भी मदद करने वालों की संख्या सीमित हो गई है. नेहरूनगर थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक यूसुफ सौदागर ने इस्माइल के साहस और इंसानियत की तारीफ की. इस्माइल शेख का अभिनंदन किया गया और लोगों से समाज में शांति बनाए रखने के लिए पुलिस का सहयोग करने की अपील की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Right Menu Icon
%d bloggers like this: