कॉन्ट्रैक्ट भर्ती को लेकर बीजेपी और महा विकास आघाड़ी में घमासान

Spread the love

कॉन्ट्रैक्ट भर्ती को लेकर बीजेपी और महा विकास आघाड़ी में घमासान

कल्याण में भाजपा कार्यकर्ताओं का आक्रामक आंदोलन

कार्यकर्ताओं ने जलाई जीआर की कॉपी

आकीब शेख

कल्याण – महाराष्ट्र में कॉन्ट्रैक्ट भर्ती को लेकर घमासान मचा हुआ है। सत्तारूढ़ भाजपा और विपक्ष, कॉन्ट्रैक्ट भर्ती के लिए एक दूसरे को जिम्मेदार ठहरा कर आरोप-प्रत्यारोप कर रहा है। शनिवार को संपूर्ण महाराष्ट्र में बीजेपी ने इस मुद्दे को लेकर विपक्षी दल उद्धव गुट और शरद पवार गुट के खिलाफ जोरदार विरोध प्रदर्शन किया। इसी कड़ी में कल्याण के छत्रपति शिवाजी महाराज चौक पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने महा विकास आघाड़ी के खिलाफ आक्रामकता के साथ आंदोलन किया। कार्यकर्ताओं ने कांट्रेक्ट भर्ती के जीआर की कॉपी जलाकर शरद पवार और उद्धव ठाकरे हाय-हाय के नारे लगाए। विरुद्ध प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे भाजपा के जिलाध्यक्ष नरेंद्र उर्फ नाना सूर्यवंशी ने संविदा नौकरी को लेकर महा विकास आघाड़ी के नेताओं की जमकर आलोचना की। सूर्यवंशी ने कहा कि शरद पवार, उद्धव ठाकरे और कांग्रेस हमेशा केवल भाजपा के नेताओं के बारे में बेफिजूल का बयान देते रहते हैं। उन्होंने आगे कहा कि कॉन्ट्रैक्ट भर्ती के जिस जीआर को लेकर विपक्ष भाजपा पर निशाना साध रहा है, वह जीआर साल 2003 में कांग्रेस के तत्कालीन मुख्यमंत्री सुशील कुमार शिंदे के शासन में पारित हुआ था। उन्होंने यह भी कहा कि सुशील कुमार शिंदे से लेकर उद्धव ठाकरे के कार्यकाल में भी इसी जीआर के आधार पर शिक्षकों की भर्ती होती रही है। सूर्यवंशी ने आरोप लगाया कि शरद पवार और उद्धव ठाकरे खुद की गलतियों पर पर्दा डालकर बीजेपी पर कीचड़ उछाल रहे हैं। विरोध प्रदर्शन में भाजपा के पूर्व विधायक नरेंद्र पवार, कल्याण पूर्व मंडल अध्यक्ष संजय मोरे, पूर्व जिलाध्यक्ष शशिकांत कांबले, कल्याण पश्चिम मंडल अध्यक्ष वरुण पाटिल, प्रेमनाथ म्हात्रे सहित तमाम कार्यकर्ता बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Right Menu Icon