महादेव बेटिंग ऐप का मुख्य आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे 

Spread the love

महादेव बेटिंग ऐप का मुख्य आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे 

दुबई से मुंबई एयरपोर्ट पर पहुंचते ही सुरक्षाकर्मियों ने लिया हिरासत में, तत्पश्चात मुंबई पुलिस को सौंपा 

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

मुंबई – महादेव बेटिंग ऐप मामले में मुख्य आरोपी मृगांक मिश्रा को दुबई से मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुँचने के बाद सुरक्षाकर्मियों ने हिरासत में ले लिया। एक अधिकारी ने बताया कि मिश्रा पर घोटाले में अर्जित धन भेजने के लिए सैकड़ों संदिग्ध बैंक खाते खोलने में महादेव बेटिंग ऐप के प्रवर्तकों की मदद करने का आरोप है। बाद में राजस्थान के एक पुलिस दल ने उसकी हिरासत ले ली, जंहा वह महादेव ऐप से जुड़े धोखाधड़ी और जालसाजी के एक मामले का सामना कर रहा है।

उन्होंने बताया कि मृगांक मिश्रा – 25 को शनिवार को दुबई से लौटने पर हवाई अड्डे पर सुरकक्षाकर्मियों ने पकड़ लिया और मुंबई के सहार पुलिस को सौंप दिया। राजस्थान में प्रतापगढ़ पुलिस का एक दल रविवार को मुंबई आया और उसे गिरफ्तार कर लिया। मिश्रा महादेव बेटिंग ऐप मामले में प्रतापगढ़ पुलिस थाने में दर्ज धोखाधड़ी और जालसाजी के एक मामले में वांटेड है। उसके खिलाफ एक लूकआउट सर्कुलर (एलओसी) जारी किया गया था।

मुलरूप से मध्यप्रदेश के रतलाम का रहने वाला मृगांक मिश्रा दुबई में छिपा हुआ था। इस बीच प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम ने इस मामले में सोमवार को कई जगहों पर एकसाथ छापेमारी की। अधिकारीयों ने बताया कि ईडी की टीम ने भिलाई तीन के पटाखा कारोबारी सुरेश धिगांनी, सट्टा किंग सौरभ चंद्राकर के बिज़नेस पार्टनर दीपक सावलानी समेत 6 लोगों के ठिकानों पर छापेमारी की।

ईडी के अधिकारी सुबह करीब छः बजे पटाखा कारोबारी सुरेश धिगांनी के भिलाई -3 स्थित निवास पहुंचे। अधिकारीयों ने सुरेश धिगांनी और उसके बेटे विवेक (बंटी) धिगांनी से पूछताछ की। अधिकारीयों की माने तो दीपक सावलानी, सट्टा किंग सौरभ चंद्राकर का बिज़नेस पार्टनर है। दीपक सावलानी चंद्राकर के काले धन को विभिन्न व्यवसाय में लगाकर उसे सफ़ेद करने का काम करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Right Menu Icon