केंद्र सरकार 500 करोड़ रूपये दे और गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई क़ो रिहा करे, अन्यथा प्रधानमंत्री समेत गुजरात के नरेन्द्र मोदी स्टेडियम को बम से उड़ा देंगे!

Spread the love

केंद्र सरकार 500 करोड़ रूपये दे और गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई क़ो रिहा करे, अन्यथा प्रधानमंत्री समेत गुजरात के नरेन्द्र मोदी स्टेडियम को बम से उड़ा देंगे!

धमकी भरे ईमेल से सुरक्षा एजन्सियों के फुले हाथ-पैर, एनआईए ने मुंबई पुलिस क़ो किया सतर्क। सभी जाँच एजन्सियां अलर्ट मोड पर

योगेश पाण्डेय – संवाददाता

मुंबई – एक ओर जहां पूरा देश विश्व कप मैचों की तैयारियों में जुटा है, वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जान से मारने और अहमदाबाद स्थित नरेंद्र मोदी स्टेडियम को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है। धमकी देने वाले ने 500 करोड़ रुपये की फिरौती के साथ गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई की रिहाई की मांग की है। इस बात की जानकारी मुंबई पुलिस को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) से मिली है, जिसके बाद से ही पूरा सिस्टम अलर्ट हो गया है।

केंद्र सरकार से 500 करोड़ रूपये और गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई की रिहाई चाहिए, नहीं तो मोदी के साथ नरेंद्र मोदी स्टेडियम भी उड़ा दिया जाएगा। भारत में सब कुछ बिकता है, जिसमें से हमने भी कुछ खरीदा है, कितना भी सुरक्षा इंतजाम कर लो, हमसे नहीं बच पाओगे, ऐसी बातों का जिक्र ईमेल में किया गया है। इसमें यह भी बताया गया है कि अगर आप संपर्क करना चाहते हैं तो उसी ईमेल पर संपर्क करें। इस धमकी भरे ईमेल मिलने के बाद देशभर की यन्त्रणायें अलर्ट हो गई हैं।

मुंबई पुलिस को पिछले पांच महीनों में झूठी सूचना या धमकी देने वाले 80 से अधिक फर्जी फोन कॉल मिले हैं। पिछले सप्ताह मंत्रालय में बम रखे जाने के बारे में 112 नंबर पर एक गुमनाम फोन कॉल आया था। आरोपी ने गुमनाम फोन कॉल कर मंत्रालय को बम से उड़ाने की धमकी दी। गुमनाम फोन करने वाले ने मुख्यमंत्री से बात करने की इच्छा जताई, उसने बात नहीं करवाने पर मंत्रालय को बम से उड़ाने की धमकी दी। इसके बाद बम निरोधक दस्ता मंत्रालय में दाखिल हुआ और उन्होंने मंत्रालय में मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के कक्ष के पास के क्षेत्र का विशेष रूप से निरीक्षण किया। नागरिकों को भी वहां जाने से रोका गया। करीब डेढ़ घंटे के निरीक्षण के बाद मंत्रालय में कोई संदिग्ध वस्तु नहीं मिली। इस मामले में स्थानीय पुलिस ने पाथर्डी से एक संदिग्ध को हिरासत में लिया है। इसके अलावा दक्षिण मुंबई की एक महिला ने 38 बार पुलिस को फोन कर परेशान किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Right Menu Icon