राज्य सरकार से शिक्षकों की नाराजगी : कल से शिक्षक दिवस पर ज्यूनियर कॉलेज के शिक्षक काली पट्टी बांध कर करेंगे आंदोलन

राज्य सरकार से शिक्षकों की नाराजगी : कल से शिक्षक दिवस पर ज्यूनियर कॉलेज के शिक्षक काली पट्टी बांध कर करेंगे आंदोलन

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

मुंबई – राज्य के जूनियर कॉलेज शिक्षक अपनी लंबित मांगों को लेकर शिक्षक दिवस 5 सितंबर यानी कल के दिन काली पट्टी बांधकर विरोध प्रदर्शन करेंगे। पुरानी पेंशन योजना लागू करने समेत विभिन्न मांगों को पूरा करने के लिए यह रुख अपनाया गया है। इसी के तहत शिक्षक संघों ने राज्य के सभी शिक्षा अधिकारियों को काली पट्टी बांधकर अपना वक्तव्य देने का निर्णय लिया है।

जूनियर कॉलेज के शिक्षकों ने विभिन्न मांगों को लेकर 12वीं उत्तर पुस्तिका परीक्षा का बहिष्कार किया था, तब राज्य सरकार ने उन्हें मांगों पर सकारात्मक विचार करने का आश्वासन दिया था। सरकार से लिखित आश्वासन मिलने के बाद शिक्षकों ने अपना आंदोलन वापस ले लिया और उत्तर पुस्तिकाओं की जांच समय पर पूरी कर ली, लेकिन सरकार ने अभी तक इन मांगों पर कोई आदेश जारी नहीं किया है। साथ ही महासंघ के बार-बार मुलाक़ात और ज्ञापन के बावजूद शिक्षा विभाग केवल समय बर्बाद कर रहा है। साथ ही महाराष्ट्र राज्य जूनियर कॉलेज शिक्षक महासंघ ने आरोप लगाया है कि शिक्षा मंत्री दीपक केसरकर चर्चा के लिए समय नहीं दे रहे हैं। इसलिए शिक्षक दिवस पर काली पट्टी बांधकर विरोध करने का निर्णय लिया गया है।

महासंघ के संयोजक प्रो. मुकुंद अंधलकर ने चेतावनी देते हुए यह भी कहा है कि अगर सरकार इसी तरह का रवैया अपनाती रही तो महासंघ को सिलसिलेवार आंदोलन शुरू करने पर विवश होना पड़ेगा।

संगठन द्वारा पुरानी पेंशन योजना लागू करने, राज्य सरकार बढ़े हुए पदों को मान्यता देकर नियुक्ति तिथि से भुगतान, आईटी शिक्षकों को वेतनमान के हिसाब से वेतन, शिक्षकों के लिए 10, 20, 30 साल की गारंटी योजना लागू करने तथा कक्षा में विद्यार्थियों की संख्या स्कूल कोड के प्रावधानों के अनुसार करने जैसी मांगों को तत्काल स्वीकृति देने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Right Menu Icon
%d bloggers like this: