भीमा कोरेगाव दंगा मामले में प्रकाश अम्बेडकर का उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को लेकर दिया बयान

Spread the love

भीमा कोरेगाव दंगा मामले में प्रकाश अम्बेडकर का उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को लेकर दिया बयान

अम्बेडकर ने कहा जिस समय दंगा भड़का देवेंद्र फडणवीस नगर जिले में मौजूद थे। उन्हें इसकि जानकारी न होना प्रशासन या राजनितिक विफलता, आयोग इसकी जाँच करे 

योगेश पाण्डेय – संवाददाता

मुंबई – भीमा कोरेगांव दंगा मामले में नियुक्त आयोग द्वारा प्रकाश अंबेडकर का बयान दर्ज किया गया है। इस जवाब में क्या कहा गया इसकी जानकारी खुद प्रकाश अंबेडकर ने मीडिया को देते हुए राज्य के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस का नाम लेकर बड़ा विस्फोट करते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि कई लोगों ने भीमा कोरेगांव दंगा मामले के बारे में जानकारी छिपाई है। वह बुधवार को मुंबई में मीडिया को सम्बोधित कर रहे थे।

प्रकाश अंबेडकर ने कहा कि देवेंद्र फड़नवीस 1 जनवरी को भीमा कोरेगांव से 40 किलोमीटर दूर नगर जिले में थे। बताया जाता है कि उनके हेलीकॉप्टर ने 11.30 से 11.40 बजे उड़ान भरी थी और दंगा सुबह भड़का था। अगर उन्हें इस दंगे के बारे में पता होता तो वे पुणे आकर दंगे की समीक्षा करते हालांकि उन्हें दंगे की जानकारी नहीं मिली। इसलिए आयोग को इसकी जांच करनी चाहिए कि यह प्रशासनिक विफलता है या राजनीतिक विफलता।

कई लोगों ने भीमा कोरेगांव दंगा मामले के बारे में जानकारी छिपाई है। इस संबंध में मैं अगली सुनवाई में आयोग को दो घटनाएं बताने जा रहा हूं। यहां तक कि मुंबई जैसे बम धमाकों में भी जब सारी जानकारी मिल जाती थी तो वह स्थानीय पुलिस तक नहीं पहुंच पाती थी, इसलिए वे उस पर कार्रवाई नहीं कर पाते थे और 26/11 की घटना हो जाती थी,उक्त राय प्रकाश अंबेडकर ने मिडिया के समक्ष व्यक्त की।

ऐसी घटनाएं बार-बार हो रही हैं। इसलिए जिम्मेदारी तय करने का काम आयोग को करना चाहिए। सुनवाई में मेरे बयान के बाद सवाल भी पूछे गए, मैंने उन सवालों के जवाब आयोग को दे दिये हैं। संभाजी महाराज को किसने दफनाया इस विवाद पर जिरह हुई और अब नया राजनीतिक समीकरण बन रहा है। प्रकाश अंबेडकर ने यह भी कहा कि सामंती मराठों और ब्राह्मणों के बीच एक नया गठजोड़ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Right Menu Icon