मुख्यमंत्री के निर्वाचन क्षेत्र की जनता दूषित और बदबूदार पानी पिने को मजबूर

Spread the love

मुख्यमंत्री के निर्वाचन क्षेत्र की जनता दूषित और बदबूदार पानी पिने को मजबूर

ठाणे महानगर पालिका की अपील, पानी को उबालकर और छानकर पियें

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

ठाणे : मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के निर्वाचन क्षेत्र नौपाड़ा, कोपरी, गांधीनगर, हजूरी और लुइसवाड़ी इलाकों में गंदे पानी की सप्लाई हो रही है और इस पानी से बदबू आ रही है, जिससे यहां के नागरिकों के लिए स्वास्थ्य की समस्या उत्पन्न हो गई है। ठाणे महानगर पालिका प्रशासन ने बांध क्षेत्र में भारी बारिश के कारण मटमैले पानी की आपूर्ति का दावा करते हुए नागरिकों से पानी उबालकर और छानकर पीने की सलाह दी है।

ठाणे महानगर पालिका क्षेत्र में प्रतिदिन चार जलापूर्ति स्रोतों से 585 मिलियन लीटर पानी की आपूर्ति की जाती है। इसमें महानगर पालिका की अपनी योजना से 250 मिलियन लीटर, एसटीईएम प्राधिकरण से 115 मिलियन लीटर, महाराष्ट्र औद्योगिक विकास प्राधिकरण से 135 मिलियन लीटर और मुंबई महानगर पालिका से 85 मिलियन लीटर पानी की आपूर्ति की जाती है। इसलिए ये सभी स्रोत शहर में जलापूर्ति की दृष्टि से महत्वपूर्ण माने जाते हैं।

मुंबई महानगर पालिका से जल आपूर्ति का वितरण नौपाड़ा, कोपरी, गांधीनगर, हजूरी और लुईसवाड़ी क्षेत्रों में किया जाता है। इस क्षेत्र में पिछले कुछ दिनों से गंदे पानी की सप्लाई हो रही है, और इस पानी से बदबू भी आ रही है। इस दूषित पानी के कारण नागरिकों का स्वास्थ्य खतरे में है। दूषित पानी की सप्लाई से नागरिक हैरान हैं और नागरिक इस मुद्दे पर महानगर पालिका प्रशासन की आलोचना कर रहे हैं।

इस बीच मुंबई महानगर पालिका के जल विभाग द्वारा दी गई अधिसूचना के अनुसार, शहर को पानी की आपूर्ति करने वाले बांध क्षेत्र में अत्यधिक वर्षा के कारण, बांध से जल चैनल में गंदा पानी आ रहा है। साथ ही पानी से बदबू भी आ रही है। इस पानी को पिसे-पांजरापोल जल उपचार संयंत्र से शुद्ध किया जाता है। फिर भी ठाणे महानगर पालिका ने नागरिकों से पानी को छानकर और उबालकर पीने की सलाह और अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Right Menu Icon