गैरों पे करम, अपनों पे सितम? भाजपा की नई नीति 

Spread the love

गैरों पे करम, अपनों पे सितम? भाजपा की नई नीति 

पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण की चीनी मिल को 147 करोड़ के ऋण की गारंटी, सरकार के फैसले से राजनीतिक गहमा – गहमी 

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

मुंबई – राज्य सरकार ने पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण और मौजूदा उपमुख्यमंत्री अजीत पवार से संबंधित सहकारी चीनी मिलों को ऋण की गारंटी दी है। चव्हाण की चीनी मिल को सरकार का समर्थन राजनीतिक हलकों में हैरानी का सबब बन गया है। राज्य सरकार ने पांच सहकारी चीनी मिलों के ऋण की गारंटी देने का आदेश जारी किया है, जिसमें भाऊराव चव्हाण सहकारी चीनी मिल के 147 करोड़ रुपये के ऋण की गारंटी दी गई है, जिसके संस्थापक पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण हैं और इस मिल पर उनका स्वामित्व है।

 

कांग्रेस पार्टी और उसके नेता एक ओर जहां मराठा आरक्षण के मुद्दे पर सरकार की आलोचना कर रहे हैं, वहीं उन्हें आश्चर्य है कि सरकार ने अशोक चव्हाण से जुड़ी चीनी मिल की मदद की है। इंदापुर तालुका में श्री छत्रपति सहकारी चीनी मिल लिमिटेड, जिस पर उपमुख्यमंत्री अजीत पवार का शासन है। हालांकि अजित पवार का भवानीनगर चीनी कारखाने से कोई सीधा संबंध नहीं है, लेकिन सरकार ने 128 करोड़ रुपये के ऋण की गारंटी दी है, इस कारखाने पर उनके समूह का कब्जा है। कांग्रेस और भाजपा के बीच राजनीतिक सफर तय करने वाले पूर्व विधायक धनाजी साठे के माढ़ा तालुका में श्री संत कुर्मादास सहकारी चीनी मिल के 60 करोड़ रुपये के ऋण की सरकार ने गारंटी दे दी है। इसके अलावा सरकार ने पंढरपुर में शिरोमणि वसंतराव काले सहकारी चीनी मिल को 146 करोड़, बीड जिले के गेवराई में जयभवानी सहकारी चीनी मिल 150 करोड़ की ऋण गारंटी दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Right Menu Icon