भांडुप के सावित्रीबाई फुले मनपा मैटरनीटी अस्पताल का काला कारनामा

Spread the love

भांडुप के सावित्रीबाई फुले मनपा मैटरनीटी अस्पताल का काला कारनामा

नवजात शिशुओं को रोने से रोकने के लिए मुंह पर लगाया जाता है टेप। एनआईसीयू यूनिट की नर्स निलंबित 

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

मुंबई : मुंबई महानगर पालिका के भांडुप स्थित सावित्रीबाई फुले मैटरनीटी अस्पताल में एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। पता चला है कि वहां की नर्सें बच्चों को रोने से रोकने के लिए उनके मुंह पर टेप लगाने का घिनौना काम कर रही हैं।

प्रिया कांबले नामक महिला ने कुछ दिनों पहले अस्पताल में बच्चे को जन्म दिया था। पीलिया होने के कारण बच्चे को एनआईसीयू में रखा गया था। जब वह बच्चे को देखने के लिए एनआईसीयू में आई तो उसने पाया कि उसके बच्चे के मुंह को टेप से बंद किया गया है। यह देखकर वह सहम गई, प्रिया ने वहां की नर्स से इस बारे में पूछा तो पता चला कि बच्चे के मुंह पर टेप इसलिए लगाया गया है क्योंकि बच्चा रो रहा था। उन्होंने तुरंत इसकी सूचना अस्पताल प्रशासन को दी।

अस्पताल में सब कुछ सामने आने के बाद प्रिया कांबले को तुरंत वहां से छुट्टी दे दी गई और बच्चे को ठाणे के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। उसने अपने परिजनों को भी पूरी घटना के बारे में बताया।

इसी बीच सावित्रीबाई फुले प्रसूति अस्पताल में एनआईसी यूनिट में रखे नवजात शिशुओं की मौत का मामला सामने आया। लेकिन फिर भी अस्पताल प्रशासन द्वारा इसे गंभीरता से नहीं लिया गया। यह सब सामने आने के बाद एनआईसी यू में कार्यरत नर्स सविचा भैर को निलंबित कर दिया गया है और एक नर्स को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है।

प्रिया ने मीडिया से बात करते हुए अस्पताल प्रशासन की लापरवाही पर भी सवाल उठाया है। प्रिया ने बताया कि बच्चे के कपड़े और डायपर भी समय पर नहीं बदलें जाते हैं। यहां तक कि प्रसव कराने आई महिलाओं के साथ भी ठीक से व्यवहार नहीं किया जाता है। साथ ही इस अस्पताल को लेकर कई शिकायतें की गई हैं कि नवजात शिशुओं को ठीक से दूध नहीं पिलाया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Right Menu Icon