अस्तित्व के संकट से जूझ रही उद्धव ठाकरे की शिवसेना, निकाय चुनाव में भी पिछड़ने के आसार

अस्तित्व के संकट से जूझ रही उद्धव ठाकरे की शिवसेना, निकाय चुनाव में भी पिछड़ने के आसार

मनपा चुनाव में मराठी माणूस के साथ – साथ प्रवासी नागरिकों का वोट साधने में सफल रह सकती है भाजपा

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

मुंबई – शिवसेना अब आधिकारिक तौर पर दो गुटों में बंट गई है। चुनाव आयोग की ओर से एकनाथ शिंदे और उद्धव ठाकरे गुट को अलग-अलग नाम और सिंबल दे दिए गए हैं। एकनाथ और उद्धव ठाकरे में से कौन इस जंग में विजेता रहा है, यह तो बाद में पता चलेगा, लेकिन भाजपा जरूर विजय की ओर बढ़ सकती है। इसकी शुरुआत आगामी महानगर पालिका चुनाव से ही हो सकती है, जहां मराठी वोटों में बड़ा बंटवारा होने की संभावना के चलते, इसका सीधा लाभ भाजपा को मिलेगा और वह बड़े बजट वाली बीएमसी में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभर सकती है।

मुंबई के सामाजिक समीकरण अब पहले जैसे नहीं रहे। इसके अलावा उद्धव ठाकरे की ताकत बंट चुकी है। जो बची भी है, उसके जरिए वह मराठी माणुस का कार्ड खेलने में सक्षम नहीं दिख रहे हैं। फिलहाल शिवसैनिकों को यह पता ही नहीं है कि उन्हें किस राह पर जाना चाहिए। एक दौर में बालासाहेब ठाकरे के आह्वान पर शिवसैनिक हिंदुत्व और मराठी माणुस के नाम पर सड़कों पर होते थे, लेकिन अब उद्धव नए हिंदुत्व को अपनाने की कोशिश कर रहे हैं। यह नया हिंदुत्व कितना शिवसैनिकों और आम लोगों के गले उतरता है, यह बीएमसी चुनाव से साबित हो जाएगा। माना जाता है कि उद्धव ठाकरे अपने पिता की तरह स्ट्रीट फाइट की बजाय उदारवादी हिंदुत्व की विचारधारा पेश करना चाहते हैं।

कहा जा रहा है कि भले ही विधायक और सांसदों की बड़ी संख्या एकनाथ शिंदे के पास है, लेकिन शिवसेना का कैडर उद्धव ठाकरे के समर्थन में है। हालांकि इसके बाद भी कड़े मुकाबले में विभाजन होने पर भाजपा के ही विजयी होने की संभावना है। इस तरह मराठी माणुस का बंटा वोट हिंदुत्व के नाम पर उतर रही भाजपा को फायदा देगा। महाराष्ट्र की राजनीति को समझने वालों का कहना है कि आने वाले दिनों में मराठी माणुस की राजनीति भी हिंदुत्व के अजेंडे में ही समाहित हो सकती है। यही भाजपा की कोशिश भी है, जिसके जरिए वह मराठियों के अलावा प्रवासी नागरिकों को भी साधती रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

पुलिस महानगर न्यूज़पेपर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न० 7400225100,8976727100
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: