चुनाव आयोग के खिलाफ उद्धव गुट कि दिल्ली उच्च न्यायलय में रिट पिटिशन याचिका

चुनाव आयोग के खिलाफ उद्धव गुट कि दिल्ली उच्च न्यायलय में रिट पिटिशन याचिका

चुनाव चिन्ह फ्रीज़ करने को लेकर शिवसेना का तर्क, हालफनामे और दस्तावेजों कि पुष्टि किये बगैर किया गया फैसला गलत

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

मुंबई : शिवसेना में उद्धव ठाकरे समूह ने केंद्रीय चुनाव आयोग के धनुष बाण चुनाव चिह्न को फ्रीज करने के फैसले के खिलाफ दिल्ली उच्च न्यायालय का रुख किया है। उद्धव ठाकरे समूह की ओर से हाईकोर्ट में एक रिट याचिका दायर कर चुनाव आयोग के इस फैसले के खिलाफ अपील की गई है। रीट पेटिशन में कहा गया है कि चुनाव आयोग ने हमें अपना पक्ष रखने का मौका नहीं दिया। साथ ही हलफनामे और दस्तावेजों की पुष्टि किए बिना चुनाव आयोग ने धनुष बाण चिन्ह और शिवसेना को फ्रीज करने का फैसला किया। शिवसेना ने अपनी याचिका में मांग की है कि चुनाव आयोग के फैसले को तत्काल निलंबित किया जाए। शिवसेना के वकीलों ने भी मांग की है कि इस याचिका पर जल्द सुनवाई की जाए। ऐसे में अब सभी की निगाहें इस पर टिकी है कि दिल्ली हाई कोर्ट का क्या फैसला होगा।

शुरू में सबके मन में यह विचार आया कि शिवसेना ने सुप्रीम कोर्ट के बजाय हाईकोर्ट में याचिका क्यों दायर की। हालांकि अब इसकी वजह भी सामने आ गई है। केंद्रीय चुनाव आयोग का कार्यालय दिल्ली उच्च न्यायालय के अधिकार क्षेत्र में आता है। इसलिए शिवसेना ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। अब देखना होगा कि चुनाव आयोग की निर्णय लेने की प्रक्रिया में हाईकोर्ट दखल देता है या नहीं। शिवसेना की याचिका पर सोमवार या मंगलवार को सुनवाई होने की संभावना है। केंद्रीय चुनाव आयोग ने जल्दबाजी में सारे फैसले लिए। इन सभी बातों को हमने याचिका में पेश किया है। इसलिए शिवसेना नेता अनिल देसाई ने उम्मीद जताई कि उच्च न्यायालय इसमें जरूर हस्तक्षेप करेगा।

हालांकि शिवसेना ने दिल्ली उच्च न्यायालय में चुनाव आयोग के फैसले के खिलाफ अपील दायर की है, दूसरी ओर, शिवसेना ने चुनाव आयोग को पार्टी के प्रतीक के रूप में तीन विकल्प सौंपे हैं जिसमें उगता सूरज, मशाल और त्रिशूल शामिल हैं। लेकिन यह बात सामने आई है कि ये तीनों विकल्प चुनाव आयोग की सूची में नहीं हैं। उद्धव ठाकरे को फ्रिज, सेब, पेन ड्राइव, डस्टबिन जैसे 197 मुफ्त प्रतीकों में से किसी एक को चुनना होगा। देखना होगा कि क्या इस पर भी कोर्ट लड़ाई होती है।

केंद्रीय चुनाव आयोग के समक्ष शिंदे समूह की स्थिति तय करने के लिए रविवार रात वर्षा बंगले में एक अहम् बैठक हुई। सूत्रों ने बताया कि चुनाव चिन्ह के लिए तलवार, तुरही और गदा चिन्ह पर विचार किया जा रहा है और जल्द ही इस पर अंतिम फैसला लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

पुलिस महानगर न्यूज़पेपर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न० 7400225100,8976727100
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: