मुखपत्र सामना के जरिये शिवसेना का शिंदे – फडणवीस पर तंज, तो राज ठाकरे को चेतावनी 

मुखपत्र सामना के जरिये शिवसेना का शिंदे – फडणवीस पर तंज, तो राज ठाकरे को चेतावनी 

वेदांता – फॉक्सकॉन परियोजना के साथ ही महाराष्ट्र को भी बेच देगी भाजपा। फडणवीस – शिंदे क़ि डील तय हम तुम्हे खोखे देंगे, तुम हमें महाराष्ट्र के तिजोरी क़ि चाभी देदो

राज ठाकरे को चेताया शिंदे – फडणवीस से ज्यादा नजदीकियां इंजन और डब्बे न बिकवा दें 

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

मुंबई – दो दिन पहले, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे ने भी जांच की मांग करते हुए कहा की महाराष्ट्र को मिलने वाली ‘वेदांत-फॉक्सकॉन परियोजना गुजरात में कैसे गई, जबकि ‘वेदांत-फॉक्सकॉन’ मामले के स्थानांतरण को लेकर राज्य की शिंदे – फडणवीस सरकार पर आरोप लगाए जा रहे हैं। राज ठाकरे द्वारा सोशल मीडिया पर एक पोस्ट के जरिए यह मांग किए जाने के बाद अब शिवसेना ने इस मुद्दे पर राज ठाकरे को भाजपा से बढती नजदीकियों को लेकर आगाह किया है। दिलचस्प बात यह है कि शिवसेना ने यह चेतावनी मुंबई का जिक्र करते हुए दी है जब मुंबई महानगर पालिका चुनाव की पृष्ठभूमि में भाजपा के समर्थन से एकनाथ शिंदे समूह और मनसे के बीच नजदीकियां बढ़ रही हैं।

वेदांता ग्रुप ने मंगलवार को पुणे के तलेगांव में 1100 एकड़ जमीन पर चल रही परियोजना को गुजरात स्थानांतरित करने की घोषणा की और गुजरात सरकार के साथ एक सामंजस्य समझौते का ज्ञापन दिया। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने इस संदर्भ में टिप्पणी करते हुए सबसे पहले शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की महाविकास अघाडी सरकार पर ठीकरा फोडते हुए मवीआ सरकार को जिम्मेदार बताया। एकनाथ शिंदे ने कहा कि इस परियोजना को उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली सरकार से दो साल तक कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली। इस पर उद्धव ठाकरे द्वारा संपादित मुखपत्र ‘सामना’ के फ्रंट पेज ने शिंदे की कड़ी आलोचना की है।

मुख्यमंत्री शिंदे ने गुजरात जाने वाली फॉक्सकॉन परियोजना के लिए पिछली महा विकास अघाड़ी सरकार को दोषी ठहराया। दूसरे शब्दों में, हो सकता है कि इस परियोजना को दो वर्षों में कोई प्रतिक्रिया न मिली हो। यह सज्जन पिछले दो वर्षों से उसी सरकार के महत्वपूर्ण मंत्री थे। क्या ये दो साल सिर्फ खोखे ढोने में लगे थे? कैबिनेट की किसी बैठक में परियोजना में देरी के बारे में उनके बोलने का कोई रिकॉर्ड नहीं है। शिवसेना ने इस तथ्य की आलोचना की है कि मुख्यमंत्री शिंदे ने फॉक्सकॉन परियोजना को गुजरात के हाथों में छोड़ दिया है, जैसे कि फडणवीस युग के दौरान अंतरराष्ट्रीय वित्तीय केंद्र को मुंबई से उठाकर गुजरात को सौंप दिया गया था। शिवसेना ने चेतावनी देते हुए कहा है कि फॉक्सकॉन तो शुरुआत भर है।

शिवसेना ने यह भी आरोप लगाया है कि भाजपा और शिंदे समूह के बीच एक सौदा हुआ था। भाजपा ने कहा था हमने आपको मुख्यमंत्री पद दिया, आपके विधायकों को पांच-छह सौ पेटियां भी दी गईं। “बदले में, हमें मुंबई-महाराष्ट्र के खजाने की चाभी दे दो।इस संबंध में शिवसेना ने संतोष व्यक्त किया है कि राज ने इस परियोजना के गुजरात जाने पर चिंता व्यक्त की है। बयान में कहा गया है, यह लंबे समय से लंबित है कि मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने फॉक्सकॉन के महाराष्ट्र से गुजरात जाने पर चिंता व्यक्त की। आगे शिवसेना ने यह भी कहा है, लेकिन जो लोग महाराष्ट्र पर आर्थिक रूप से हमला कर रहे हैं और लाखों युवाओं को रोजगार से वंचित कर रहे हैं, वे कोई और नहीं, बल्कि राज ठाकरे के दोस्त भाजपा वाले हैं।

शिवसेना ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के चुनाव चिन्ह इंजन का जिक्र करते हुए राज ठाकरे को सांकेतिक चेतावनी भी दी है। कुछ दिन पहले राज ठाकरे ने विदर्भ दौरे को लेकर मीडिया से बात की थी, जिसमें रेल यात्रा को लेकर सांकेतिक बयान देते हुए कहा गया था कि कोचों को जोड़ने का काम अभी जारी है। इस इंजन और कोचों को लेकर शिवसेना ने राज को चेतावनी दी है क़ि वे महाराष्ट्र की प्रगति के सभी इंजनों और कोचों को गुजरात में स्थानांतरित कर देंगे। शिवसेना ने राज ठाकरे को यह भी चेताया है की इस खतरे को अभी संज्ञान में लिया जाना चाहिए।

यह स्पष्ट होने के बाद कि परियोजना गुजरात में स्थानांतरित हो गई है, राज ठाकरे ने ट्वीट कर कहा कि फॉक्सकॉन-वेदांता की सेमीकंडक्टर निर्माण परियोजना महाराष्ट्र से गुजरात चली गई। इस प्रोजेक्ट का कुल निवेश 1 लाख 58 हजार करोड़ रुपए है। यह प्रोजेक्ट पुणे के पास तलेगांव में होना था। रोजगार पैदा करने की विशाल क्षमता वाली परियोजना महाराष्ट्र से कैसे बच गई? यह मामला बेहद गंभीर है। इसलिए इस विषय की गहनता से जांच होनी चाहिए। निवेशकों के लिए महाराष्ट्र प्राथमिकता वाला राज्य था। ऐसे राज्य से रिवर्स निवेश यात्रा शुरू करना अच्छा संकेत नहीं है। हमें राजनीति से परे जाकर इस मुद्दे को देखना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

पुलिस महानगर न्यूज़पेपर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न० 7400225100,8976727100
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: