फोन टैपिंग मामले पर सांसद नवनीत राणा का पुलिस थाने में हंगामा

फोन टैपिंग मामले पर सांसद नवनीत राणा का पुलिस थाने में हंगामा

पुलिस से पूछा किसने अधिकार दिया कॉल रेकॉर्ड करने का। लव जिहाद में लापता लड़की को ढूंढने कि बजाय फोन रिकॉर्डिंग में लगी है पुलिस 

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

मुंबई – महाराष्ट्र के अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा ने बुधवार को राजपेठ पुलिस स्टेशन में पहुंचकर हंगामा किया। वे हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं के साथ थाने पहुंचीं थी। नवनीत राणा का आरोप है कि लव जिहाद के एक मामले की शिकायत के दौरान उन्होंने पुलिसकर्मी को फोन किया था और पुलिस ने उनकी बातचित को फोन में रिकॉर्ड कर लिया। इसी बात से वे नाराज हो गईं। उन्होंने गुस्से में अफसर से पूछा रिकॉर्डिंग का हक किसने दिया।

नवनीत राणा ने बताया कि लड़की के माता-पिता मेरे पास शिकायत लेकर आए थे कि उनकी बेटी को अंधेरे में रखकर उसकी शादी की गई है। इस मामले लो लेकर जब मैंने पुलिस स्टेशन फोन किया तो पुलिस ने मेरा फोन रिकॉर्ड कर लिया, किसने उन्हें मेरी कॉल रिकॉर्ड करने का अधिकार दिया। लड़की का अपहरण हुआ है। वे उसे ढूंढकर सामने लेकर आएं। पुलिस ने राणा को जवाब दिया कि उन्होंने इस केस में एक सब्जी बेचने वाले युवक को हिरासत में लिया है, और पूछताछ की जा रही है।

नवनीत राणा ने आरोप लगाते हुए कहा कि अमरावती को बदनाम क्यों किया जा रहा है। 19 साल की हिंदू लड़की लापता है, पुलिस वाले रात दिन जांच कर रहे हैं, लेकिन कुछ पता नहीं चल रहा है, लड़की कहां है इस बारे में कोई जवाब नहीं दिया जा रहा है। राणा ने यह भी कहा कि लड़के के पूरे परिवार को पकड़कर यहां ले आओ, एक घंटे में सब कुछ सामने आ जाएगा।

मीडिया से बात करते हुए लड़की के माता-पिता ने कहा कि उनकी बेटी 12.30 बजे बैंक गई थी, लेकिन बाद में उसका फोन स्विच ऑफ हो गया। लड़की के माता-पिता ने कहा कि जिसे गिरफ्तार किया गया है वह लड़का हमारे घर कभी नहीं आया।

भाजपा सांसद अनिल बोंडे ने कहा कि धरनी और अमरावती के ऐसे दो मामले हैं। धरनी की बेटी को हैदराबाद ले गए हैं। उस लड़की ने भी मुझे फोन किया। वह अमरावती आना चाहती है। मैंने पुलिस से उन लड़कियों को ढूंढ़ने और छुड़ाने का अनुरोध किया, लेकिन इन मामलों को उतनी गंभीरता से नहीं लिया, जितना उन्हें होना चाहिए था। ऐसे ही बीस मामले धरनी में जबकि चार मामले अमरावती में सामने आए हैं। अगर इन बच्चियों के माता-पिता शिकायत लेकर जाते हैं तो उनकी शिकायत नहीं दर्ज की जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

पुलिस महानगर न्यूज़पेपर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न० 7400225100,8976727100
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: