आदित्य ठाकरे के आरोपों से बौखलाई भाजपा, शिंदे – फडणवीस पर राज्य की उपेक्षा को लेकर साधा निशाना

आदित्य ठाकरे के आरोपों से बौखलाई भाजपा, शिंदे – फडणवीस पर राज्य की उपेक्षा को लेकर साधा निशाना

महाराष्ट्र की बड़ी और विकास वाली परियोजनाओं को गुजरात ले जाने का लगाया आरोप

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

मुंबई : महाराष्ट्र और मुंबई के आर्थिक महत्व को कम करने के कई बार आरोप लगे हैं, कि राज्य में महत्वपूर्ण परियोजनाओं और कार्यालयों को पिछले कुछ वर्षों में गुजरात में स्थानांतरित किया जा रहा है। शिवसेना ने बार-बार यह मुद्दा उठाते हुए कहा है कि महत्वपूर्ण सरकारी कार्यालयों को सोची समझी रणनीति के तहत मुंबई से बाहर ले जाया जा रहा है। इस बार भी शिवसेना और भाजपा ‘फॉक्सकॉन’ प्रोजेक्ट के चलते आमने सामने आ गई हैं। शिवसेना विधायक आदित्य ठाकरे ने अप्रत्यक्ष रूप से भाजपा की आलोचना करते हुए आरोप लगाया है कि जिस परियोजना के लिए हमने सरकार में रहते हुए कड़ी मेहनत की, वह फॉक्सकॉन परियोजना गुजरात जा रही है और कुछ लोगों ने इसके लिए प्रयास किया। हालांकि आलोचनाओं और आरोपों के इस घमासान में एक बार फिर महाराष्ट्र के हिस्से की उपेक्षा की गई है।

आदित्य ठाकरे ने अप्रत्यक्ष रूप से भाजपा-शिंदे समूह की आलोचना करते हुए कहा कि महाविकास अघाड़ी सरकार ने फॉक्सकॉन परियोजना के माध्यम से महाराष्ट्र में भारी निवेश लाया था। उद्धव ठाकरे सरकार के सत्ता से हटने के बाद शिंदे-फडणवीस सरकार ने फॉक्सकॉन परियोजना का श्रेय छीन लिया। इस परियोजना के जरिए महाराष्ट्र को लगभग 1 लाख 54 हजार करोड़ रुपए का निवेश मिलने वाल था लेकिन इस परियोजना के गुजरात जाने से महाराष्ट्र एक बार फिर एक बड़ी परियोजना से चूक गया है।

भाजपा विधायक अतुल भातखलकर ने आदित्य ठाकरे के आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि महाविकास अघाड़ी सरकार ने ढाई साल में महाराष्ट्र में कौन सी परियोजना लाई थी? जिस परियोजना की आदित्य ठाकरे ने गुजरात जाने की आलोचना की है, दोनों कंपनियों ने गुजरात में वेदांत और फॉक्सकॉन की एक संयुक्त उद्यम परियोजना स्थापित करने का फैसला किया है। फडणवीस के मुख्यमंत्री कार्यकाल में फॉक्सकॉन परियोजना महाराष्ट्र में आने वाली थी, लेकिन महाविकास अघाड़ी सरकार के दौरान यह परियोजना महाराष्ट्र में नहीं टिक सकी। वे कर्नाटक गए, तब मविआ ने निष्कर्ष निकाला कि यह कोई प्रोजेक्ट नहीं है, यह सिर्फ एक डेस्क है। यह सब पाखंड है और कुछ नहीं। शिंदे-फडणवीस की जोड़ी महाराष्ट्र में अच्छे प्रोजेक्ट लाने की कोशिश करती रहेगी।

शिवसेना विधायक मनीषा कायंदे ने भाजपा पर पलटवार करते हुए कहा है कि महाराष्ट्र को कमजोर करने के लिए, कई महत्वपूर्ण कार्यालयों और परियोजनाओं को गुजरात में स्थानांतरित कर दिया जा रहा है। फाइनेंस सेंटर और हीरा बाजार जैसी कई उद्दमों को गुजरात में स्थानांतरित करने का प्रयास किया गया। दूसरों को हथियाने की भाजपा की नीति है, चाहे वह सरकार हो या परियोजनायें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

पुलिस महानगर न्यूज़पेपर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न० 7400225100,8976727100
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: