कोरोना काल में दुनिया ने माना उद्धव ठाकरे का लोहा, भगतसिंह कोश्यारी ने कि उद्धव ठाकरे सरकार की तारीफ

कोरोना काल में दुनिया ने माना उद्धव ठाकरे का लोहा, भगतसिंह कोश्यारी ने कि उद्धव ठाकरे सरकार की तारीफ

राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी के 3 वर्ष पूरे, उनकी जीवनी पर 2 किताबों का विमोचन

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

मुंबई : महाराष्ट्र के राज्यपाल के रूप में 3 वर्ष पूरे होने पर आज राजभवन मुंबई के दरबार हॉल में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के कार्यों पर आधारित तीन पुस्तकों का विमोचन गणमान्य व्यक्तियों द्वारा किया गया। इस मौके पर अपने भाषण में राज्यपाल ने कोरोना काल में उद्धव ठाकरे के काम की परोक्ष रूप से तारीफ की। जिस तरह से हम सबने मिलकर कोरोना संकट को संभाला वह काबिले तारीफ है। राज्यपाल कोश्यारी ने यह कहते हुए ठाकरे सरकार का जिक्र करने से परहेज किया कि उसी तरह हमें समाज के अंतिम तत्व, जमीनी स्तर पर लोगों तक पहुंचने का प्रयास करना चाहिए, ताकि बेहतर जीवन व्यतीत किया जा सके।

कोरोना काल में शिवसेना पार्टी प्रमुख और तत्कालीन मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की सरकार द्वारा किए गए कार्यों की हर जगह प्रशंसा हुई। यहां तक ​​कि विश्व स्वास्थ्य परिषद ने भी महाराष्ट्र सरकार द्वारा किए गए कार्यों की प्रशंसा की। मुंबई में धारावी मॉडल को भी काफी सराहा गया था। लेकिन जब ठाकरे सरकार सत्ता में थी, तब राज्यपाल और राज्य सरकार के बीच लगातार विवाद होता रहता था। किसी न किसी कारण से राज्यपाल और राज्य सरकार के बीच टकराव होता रहा। लेकिन अब राज्य में सत्ता परिवर्तन हो गया है। शिंदे-फडणवीस सरकार सत्ता में आ गई है। सत्ता परिवर्तन के बाद कोश्यारी की उद्धव सरकार की परोक्ष प्रशंसा प्रतिद्वंदियों को नागवार गुजर रही है।

उत्तर प्रदेश के पूर्व राज्यपाल राम नाइक, नागालैंड के पूर्व राज्यपाल पद्मनाभ आचार्य, प्रमुख सचिव संतोष कुमार, विजय दर्डा कोश्यारी पर पुस्तक विमोचन समारोह में शामिल हुए। गणमान्य व्यक्तियों द्वारा इस पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में एक कॉफी टेबल पुस्तक ‘त्रिवार्षिक रिपोर्ट- भगत सिंह कोश्यारी’ और रविकुमार अरक ​​द्वारा लिखित एक जीवनी मराठी पुस्तक ‘लोकनेता भगत सिंह कोश्यारी’ का विमोचन किया गया।

राज्यपाल कोश्यारी ने कहा, मुझे महाराष्ट्र में राज्यपाल के रूप में काम करने का अवसर मिला, जिसमें संतों की शिक्षाओं, शिवाजी महाराज की वीरता, सुधारकों के ज्ञान की समृद्ध विरासत है। उसके माध्यम से मैं पिछले तीन वर्षों से जनता के लिए अधिक जनोन्मुखी तरीके से काम करने के लिए काम कर रहा हूं।

जिस तरह से हम सबने मिलकर कोरोना संकट को संभाला है, अगर हम सब मिलकर एक अच्छा जीवन जीने के अवसर को समाज के अंतिम तत्व, जमीनी स्तर तक पहुँचाने के लिए काम करें, तो हम निश्चित रूप से एक बड़ा बदलाव कर सकते हैं। इस संबंध में हम सभी को एक बेहतर भारत बनाने का प्रयास करना चाहिए”, राज्यपाल ने अपने संभाषण में अपील करते हुए कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

पुलिस महानगर न्यूज़पेपर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न० 7400225100,8976727100
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: