महाराष्ट्र के बाद दिल्ली में भाजपा का ऑपरेशन लोटस

महाराष्ट्र के बाद दिल्ली में भाजपा का ऑपरेशन लोटस

मुख्यमंत्री द्वारा आयोजित बैठक से नदारद रहे आप पार्टी के 9 विधायक, संपर्क भी नहीं हो पा रहा। राजघाट पर मौन व्रत रखेंगे अरविंद केजरीवाल

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

दिल्ली – महाराष्ट्र में भाजपा का ‘ऑपरेशन लोटस’ कामयाब और कारगर होने के बाद अब बारी दिल्ली की। ऑपरेशन लोटस पर सवाल उठाने के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के विधायकों के साथ बैठक बुलाई। सूत्रों के मुताबिक बैठक में आप के 9 विधायक नहीं पहुंचे। पार्टी हाईकमान का उनसे कोई संपर्क भी नहीं हो पा रहा है। 70 सीटों वाली दिल्ली विधानसभा में आप के पास 62 और भाजपा के पास केवल 8 सीटें हैं।

इधर, बैठक के बाद आप के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि दिल्ली सरकार को कोई खतरा नहीं है। सरकार स्थिर है और जो विधायक नहीं आए हैं, वो अपने-अपने काम से बाहर गए हैं। भाजपा ने हमारे 12 विधायकों को आम आदमी पार्टी छोड़ भाजपा में शामिल होने का ऑफर दिया है।

सौरभ भारद्वाज ने बताया कि मीटिंग में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और विधानसभा के स्पीकर रामनिवास गोयल भी नहीं पहुंचे हैं। सिसोदिया हिमाचल प्रदेश गए हैं। वहीं ऑपरेशन लोटस की असफलता पर अरविंद केजरीवाल राजघाट जाएंगे और मौन व्रत रखेंगे।

आप विधायक दिलीप पांडेय ने मीडिया को बताया कि कल शाम से ही कुछ विधायकों से संपर्क नहीं हो पा रहा है। हम लगातार बात करने की कोशिश कर रहे हैं। सभी विधायक जल्द ही मीटिंग में पहुंचेंगे। भाजपा हमारे 40 विधायकों को तोड़ने की कोशिश कर रही है।

बुधवार को आम आदमी पार्टी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आप सांसद संजय सिंह ने ऑपरेशन लोटस को लेकर खुलासा करते हुए कहा था कि हमारे विधायकों को भाजपा ने ऑफर दिया है। ऑफर यह है कि आप छोड़ने पर 20 करोड़ दिए जाएंगे।

संजय सिंह ने कहा हमारे विधायक संजीव झा, सोमनाथ भारती, कुलदीप कुमार और एक अन्य विधायक को भाजपा ने पार्टी छोड़ने के बदले 20 करोड़ रुपए देने का ऑफर दिया है। संजय सिंह के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में सोमनाथ भारती भी मौजूद रहे। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोगों ने मुझे कहा कि आप पार्टी के अन्य 20 विधायक हमारे संपर्क में हैं।

आबकारी नीति को लेकर दिल्ली में पहली बार 19 अगस्त को के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर पर CBI ने छापेमारी की थी। यह छापेमारी करीब 14 घंटे तक चली थी, जिसके बाद CBI ने इस मामले में PMLA कानून के तहत केस दर्ज कर लिया था। इसके बाद से ही AAP केंद्र में सत्ताधारी दल भाजपा के खिलाफ मुखर है। सिसोदिया ने छापे के बाद कहा था कि भाजपा ने उन्हें अपनी पार्टी छोड़ने और भाजपा में शामिल होने पर दिल्ली का मुख्यमंत्री बनाने का ऑफर दिया था।

वहीं भाजपा ने जवाब में कहा कि भ्रष्टाचार के आरोप से बचने के लिए आम आदमी पार्टी झूठ का माहौल बना रही है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने बुधवार को कहा था कि मनीष सिसोदिया को इस भ्रष्टाचार पर जवाब देना ही होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

पुलिस महानगर न्यूज़पेपर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न० 7400225100,8976727100
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: