मनी लॉन्ड्रिंग मामले में बढ़ी संजय राउत की मुश्किलें, 5 सितम्बर तक बढ़ाई गई ईडी कस्टडी

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में बढ़ी संजय राउत की मुश्किलें, 5 सितम्बर तक बढ़ाई गई ईडी कस्टडी

योगेश पाण्डेय – संवाददाता 

मुंबई – पत्रा चाल मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी द्वारा गिरफ्तार किए गए शिवसेना सांसद संजय राउत की न्यायिक हिरासत एक बार फिर बढ़ा दी गई है। विशेष पीएमएलए कोर्ट ने संजय राउत की हिरासत 5 सितंबर तक बढ़ा दी है।

पत्रा चाल परिसर में रह रहे 672 परिवारों द्वारा रिडेवलपमेंट के चलते मई 2008 में गुरु-आशीष कंस्ट्रक्शन की नियुक्ति की गई थी। चूंकि ये सभी घर पट्टे पर थे, इसलिए म्हाडा की अनुमति लेना आवश्यक थी। म्हाडा ने इसके लिए तत्परता दिखाते हुए डेवलपर और समाज के साथ एक समझौते पर भी हस्ताक्षर किए थे, जिसके तहत यह करार किया गया था कि मूल निवासियों के मुफ्त पुनर्वास के बाद उपलब्ध निर्माण में डेवलपर और म्हाडा का बराबर हिस्सा होगा। हालांकि, आवासीय लेखा परीक्षा विभाग ने आपत्ति जताई कि म्हाडा के अधिकारियों द्वारा भूमि की गणना में कमी के कारण डेवलपर को 414 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ होगा। तत्कालीन मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने इस मामले में म्हाडा की कड़ी आलोचना भी की थी।

इसके लिए जिम्मेदार कार्यपालक अभियंता को बाद में निलंबित कर दिया गया था। एक महीने का नोटिस खत्म होने के बाद डेवलपर को बर्खास्त कर दिया गया। हालांकि, तत्कालीन वरिष्ठ चार्टर अधिकारी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई, जिन्होंने निर्माण से पहले डेवलपर को पुनर्वासित फ्लैटों को बेचने की अनुमति दी थी। लेकिन इसका असर आम लोगों पर पड़ा है। पिछले पांच साल से पत्रा चाल के निवासियों को कोई किराया नहीं दिया गया है और उनका जायज मकान भी छिन गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

पुलिस महानगर न्यूज़पेपर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न० 7400225100,8976727100
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: