आवाज बंद लेकिन लेखन जारी है, क्या जेल में किताब लिख रहे हैं संजय राउत ?

आवाज बंद लेकिन लेखन जारी है, क्या जेल में किताब लिख रहे हैं संजय राउत ?

तत्कालीन महाविकास आघाड़ी के 3 प्रमुख नेता आर्थर रोड जेल में, सभी को सारे ऐशो आराम

योगेश पाण्डेय – संवाददाता

मुंबई : विभिन्न तरह के मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों में गिरफ्तार किए गए राकांपा नेता अनिल देशमुख, नवाब मलिक और शिवसेना नेता संजय राउत सभी फिलहाल मुंबई के आर्थर रोड जेल में बंद हैं। उन्हें जेल के अलग-अलग सेल में रखा गया है। संजय राउत, नवाब मलिक और अनिल देशमुख को सुरक्षा कारणों से आर्थर रोड जेल में अलग-अलग बैरक में रखा गया है। सभी को टीवी, कैरम, किताबें और अन्य जरूरी चीजें मुहैया कराई जाती हैं।

नबाव मलिक को इसी वर्ष फरवरी में गिरफ्तार किया गया था। नवाब मलिक का पिछले 2 महीनों से कुर्ला स्थित क्रिटिकेयर अस्पताल में इलाज चल रहा है। अन्य कैदियों की तरह उन्हें भी हर महीने 6,000 रुपये का मनीआर्डर मिलता है। इस पैसे से वे जेल में जरूरी सामान खरीद सकते हैं।

शिवसेना नेता एवं राज्यसभा सांसद संजय राउत को प्रवर्तन निदेशालय ने 1 अगस्त को गोरेगांव स्थित पत्रा चाल घोटाले के सिलसिले में गिरफ्तार किया था। संजय राउत को आर्थर रोड जेल के अंडरट्रायल सेल नंबर 8959 में रखा गया है। राउत को सुरक्षा कारणों से अलग सेल में रखा गया है। उनकी सेल में कोई अन्य कैदी नहीं है। संजय राउत के अनुरोध पर जेल प्रशासन की ओर से उन्हें एक नोटबुक और पेन मुहैया कराया गया है साथ ही जेल की लाइब्रेरी से उन्हें पढ़ने के लिए किताबें भी दी जा रही है। राउत जेल में जो कुछ भी लिख रहे हैं चाहे वह सामना के लिए आर्टिकल हो या फिर किताब वह शायद ही जेल से बाहर आ पाएगा।

मुंबई कोर्ट से इजाजत मिलने के बाद संजय राउत को जेल में घर का बना खाना दिया जा रहा है। अदालत ने राउत को आठ अगस्त को न्यायिक हिरासत में भेज दिया था और 22 अगस्त तक रिमांड पर लिया गया है। राउत तब से आर्थर रोड जेल में हैं।

राज्य के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख को आर्थर रोड जेल के बैरक नंबर 2225 में रखा गया है। देशमुख पिछले 9 महीने से जेल में है। अनिल देशमुख को पिछले साल 1 नवंबर, 2021 को मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह द्वारा लगाए गए अवैध वसूली के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। लेकिन मलिक और राउत की तरह कोर्ट ने उन्हें घर का खाना देने की इजाजत नहीं दी है। देशमुख को अलग सेल में रखा गया है और उन्हें जेल का खाना दिया जा रहा है। लेकिन उन्हें बिस्तर, कैरम और टीवी की सुविधा मुहैया कराई गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

पुलिस महानगर न्यूज़पेपर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न० 7400225100,8976727100
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: